• --New-- Click here to Watch News channel online.
  • किसानों को सुरक्षा कवच देने वाली योजना है मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना- सांसद श्री अनूप मिश्रा | Rubaru news
    Powered by Blogger.

    किसानों को सुरक्षा कवच देने वाली योजना है मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना- सांसद श्री अनूप मिश्रा

    श्योपुर, 16/अक्टूबर/2017 (rubardesk) @www.rubarunews.com >> श्योपुर-मुरैना संसदीय क्षेत्र के सांसद श्री अनूप मिश्रा ने सोमवार को विजयपुर विकासखंड मुख्यालय पर कृषि उपज मंडी प्रांगण में भव्य समारोह में मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना का शुभारम्भ किया। इस मौके पर सांसद श्री मिश्रा ने दूर-दराज से आए किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य सरकार की यह योजना किसानों को सुरक्षा कवच देने वाली योजना है, जो प्रदेश के हर किसान के लिये वरदान साबित होगी।
         विजयपुर की कृषि उपज मण्डी प्रांगण में योजना के शुभारम्भ पर हुए आयोजित कार्यक्रम में मौजूद सभी जनप्रतिनिधियों, जिलाधिकारियों, हजारों किसानों, मण्डी व्यापारियों, तुलावटियों, हम्मालों व अन्यजनों ने मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान जी के सागर से हुए संबोधन के सीधे प्रसारण का मुग्ध होकर श्रवण किया। कार्यक्रम की शुरूआत कन्याओं का सामूहिक पूजन करके की गई। इस मौके पर ग्रामीण आजीविका परियोजना और महिला एवं बाल विकास विभाग की ओर से विकास प्रदर्शनी भी लगाई गई। 
       इस मौके पर कलेक्टर श्री पीएल सोलंकी, डीएफओ श्री सीएस निमामा, पूर्व विधायक श्री बाबूलाल मेवरा, भाजपा जिलाध्यक्ष श्री अशोक कुमार गर्ग, कृषि उपज मंडी विजयपुर की अध्यक्ष श्रीमती भंती बाई आदिवासी, भाजपा मंडल अध्यक्ष विजयपुर श्री अरविंद सिंह जादौन, सहरिया विकास अभिकरण के पूर्व अध्यक्ष श्री सीताराम आदिवासी के अलावा अन्य स्थानीय जनप्रतिनिधिगण व जिलाधिकारीगण भी मौजूद थे। मुख्यमंत्रीजी के सम्बोधन के सीधे प्रसारण से पहले कार्यक्रम में मौजूद जनप्रतिनिधियों एवं जिला कलेक्टर ने सम्बोधित कर किसानों से इस योजना का भरपूर लाभ उठाने की गुजारिश की। 
           सांसद श्री मिश्रा ने किसानों को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रदेश के पडोसी राज्यों के फसलों के भावो का औसत निकालकर प्रदेश में बिक रही फसलों के औसत भाव से तुलना कर एक औसत दर निकाली जायेगी। इस औसत दर से कम दाम अगर किसान को कृषि उपज मण्डी में दिया जायेगा तो भाव के अन्तर की राशि सीधे किसान के खातो में जमा करा दी जायेगी। उन्होने किसानों से अपील की कि वे मण्डी में फसल बेचने के बाद व्यापारियों से हमेशा पक्की रसीद प्राप्त करें और उसपर अपना पंजीयन नम्बर अवश्य लिखवायें। सरकार किसानों को हर जरूरी मदद मुहैया करायेगी। उन्होंने किसानों से कहा कि ऐसे किसान जो कृषि से जुडे हुए उद्योग या व्यवसाय स्थापित करना चाहते हैं उन्हें कृषक युवा उद्यमी योजना के जरिये दस लाख से लेकर दो करोड रूपये तक का ऋणानुदान दिया जायेगा। उन्होने कहा कि अपने खेत में सोलर पंप लगाने के इच्छुक किसानों को मुख्यमंत्री सोलर पंप योजना के अर्न्तगत पांच लाख रूपये तक का ऋणानुदान दिया जायेगा। मुख्यमंत्री भावांतर योजना के शुभारम्भ कार्यक्रम के अन्त में मौजूद सभी अतिथियों ने प्रतीकात्मक रूप से किसानों को मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना के पंजीयन प्रमाण पत्र वितरित किये। इस मौके पर सांसद श्री मिश्रा ने कहा कि श्योपुर में विकास के नए कीर्तिमान लिखे जा रहे हैं। नेरोगेज को ब्राॅडगेज में परिवर्तन करने के लिए 500 करोड रूपये की राशि मिल गई है। चंबल एक्सप्रेस वे का निर्माण कराया जा रहा है। दीनदयाल विद्युतिकरण योजना से कई गांवों में बिजली पहंुचाने का कार्य कराया जा रहा है। सडक विहीन गांवों में पक्की सडकों का निर्माण चल रहा है। सांसद श्री अनूप मिश्रा ने इस मौके पर गरीबी रेखा की सूची से नाम हटाने वाले परिवारों का पुनः सत्यापन करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि बिना सत्यापन करें अगर नाम हटाए गए हैं तो दोषियों पर सख्त कार्रवाई की जाए।
          भाजपा जिलाध्यक्ष श्री अशोक कुमार गर्ग ने कहा कि  किसान भाई अपनी सोयाबीन की फसल 31 दिसम्बर 2017 तक बेच सकते है, तभी उन्हें इस योजना का लाभ मिल सकेगा। जो किसान अपनी फसल नहीं बेचना चाहते है उनके लिये गोदाम भण्डारण अनुदान योजना प्रारम्भ की जायेगी। इस योजना में प्रतिमाह प्रति क्विंटल पर सात रूपये दिये जायेंगे। पूर्व विधायक श्री बाबूलाल मेवरा ने कहा कि किसान भाई किसी भी प्राकृतिक आपदा की दशा में स्वयं को अकेला न समझें। हमारी सरकार हरदम, हरघडी किसानों के साथ खडी है। किसी को भी लाचार या बेबस नहीं रहने दिया जायेगा। इस मौके पर कलेक्टर श्री पीएल सोलंकी ने बताया कि श्योपुर जिले में मुख्यमंत्री भावांतर योजना में 15 हजार किसानों का पंजीयन किया गया है। 
         कार्यक्रम में अतिथियों ने स्वच्छ भारत अभियान के तहत स्वच्छ ग्राम पुरस्कार वितरित किए। ग्राम पंचायत खुरजान को प्रथम पुरस्कार के रूप में 50 हजार रूपये की राशि सौंपी गई। इसी क्रम में द्वितीय पुरस्कार ग्राम पंचायत गांवडी को 40 हजार रूपये दिया गया। तृतीय पुरस्कार ग्राम पंचायत गोबर और पिपरवास को क्रमशः 30-30 हजार रूपये प्रदान किया गया। 
    क्या है मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना
                     प्रदेश के किसानों को उनकी उपज का उचित मूल्य दिलाने के लिये राज्य सरकार द्वारा मुख्यमंत्री भावान्तर भुगतान योजना लागू की गई है। योजना का उद्देश्य किसानों को कृषि उपज का न्यूनतम समर्थन मूल्य मिलना सुनिश्चित करना तथा मण्डी दरों में गिरावट से किसानों को सुरक्षा कवच प्रदान करना है। इस योजना में किसान द्वारा प्रदेश में अधिसूचित कृषि उपज मण्डी प्रांगण में चिन्हित फसल उपज बेचने पर राज्य सरकार द्वारा घोषित मॉडल विक्रय दर और केन्द्र द्वारा घोषित न्यूनतम समर्थन मूल्य के अंतर की राशि किसानों को भुगतान की जायेगी। खरीफ विपणन वर्ष-2017 में आठ प्रकार की फसलें यथा सोयाबीन, मूंगफली, तिल, रामतिल, मक्का, मूंग, उडद एवं तुअर इस योजना के दायरे में आयेंगी।
    विधायक विजय द्वारा कृषि उपज मंडी श्योपुर में भावांतर योजना का शुभारंभ 
                क्षेत्रीय विधायक श्री दुर्गालाल विजय ने कृषि उपज  मंडी समिति श्योपुर में कृषकों को प्रमाण-पत्र देकर भावांतर भुगतान योजना का शुभारंभ किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री के सागर जिले के खुरई में दिये गये उदबोधन का सीधा प्रसारण भी किया गया। श्री विजय ने कहा कि देश ही नहीं बल्कि विश्व की अनूठी योजना है भावांतर भुगतान योजना। 
              श्री विजय ने कहा कि किसानों की आय दोगुनी करने के लिये राज्य सरकार लगातार प्रयास कर रही है। इसी का परिणाम है कि पिछले चार वर्षों से राष्ट्रीय स्तर पर प्रदेश को लगातार कृषि कर्मण अवार्ड से सम्मानित किया जा रहा है। श्री विजय ने कहा लोन की ऐसी व्यवस्था कभी नहीं थी कि एक लाख लो और 90 हजार वापस करो। इस मौके पर कार्यक्रम की मुख्य अतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती कविता मीणा ने कहा कि प्रदेश में किसानों के लिये 24 घंटे बिजली उपलब्ध करवाई जा रही है। सिंचाई का रकवा बढ गया है। सरकार किसानों की पूरी चिंता कर रही है। जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री ऋषि गर्ग ने उपस्थितजनों को मुख्यमंत्री भावांतर योजना की विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने किसानों से कहा कि भावांतर भुगतान योजना का पूरा लाभ उठाएं, यदि कोई कठिनाई आएगी, तो उसे दूर किया जाएगा। इस दौरान कृषि उपज मंडी समिति के अध्यक्ष कांशीराम सेंगर, नगरपालिका अध्यक्ष दौलतराम गुप्ता, कृषि स्थाई समिति की सभापति श्रीमती रूमाली आदिवासी, राज्य स्तरीय दीनदयाल अंत्योदय समिति के सदस्य श्री कैलाशनारायण गुप्ता और अन्य जन-प्रतिनिधि एवं अधिकारीगण मौजूद रहे।


    Share on Google Plus

    About Rubaru News

    This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
      Blogger Comment
      Facebook Comment

    0 comments:

    Post a Comment