• --New-- Click here to Watch News channel online.
  • यदुवंशियों के आराध्य देव काशीदास बाबा की पूजा धूमधाम से सम्पन्न | Rubaru news
    Powered by Blogger.

    यदुवंशियों के आराध्य देव काशीदास बाबा की पूजा धूमधाम से सम्पन्न

    गाजीपुर 9/11/2017 (विकास राय)@ www,rubarunews.com>> जनपद के बाराचवर ब्लाक अन्तर्गत टोडरपुर गांव में यदुवंशियों के अराध्य देव काशीदास बाबा की पूजा पिपनार गांव निवासी सुरेन्द्र पंथी ने धूमधाम से सम्पन्न कराया। सर्वप्रथम पंथी ने विधिविधान से मण्डप बनवाया तथा अपने अराध्य देव का स्मरण करते हुए मण्डप का परिक्रमा किया। तत्पश्चात पुरोहित दयाशंकर चौबे से गोईठा मांगा तथा देवी भगवती का आहृान करते हुए मंत्रोच्चार किया और देखते ही देखते गोईठा मे अग्नि जलने लगी। उस समय वहां मां भगवती व कृष्ण भगवान का खूब जयकारा लगा। पूरा वातावरण भक्तिमय हो गया। पूजा के दौरान पंथी ने हैरतअंगेज कारनामा दिखाते खौलते हुए दूध से पांच वर्षीय बालक विशाल यादव को नहलाया लेकिन बालक का शरीर जला नहीं। वहीं एक पांच वर्षीय बालक गोलू को मंडप के चारों तरफ कई चक्कर दौड़ लगवाया और दर्जनों युवकों को उस बालक को पकडने को कहा लेकिन कोई युवक उस बालक को पकड नहीं पाया। इसके बाद पंथी ने काशीदास बाबा के पूजा पर प्रकाश डालते हुए कहा कि काशीदास बाबा का पूजा पांच हजार एक सौ अठारह वर्ष पहले से शूरू है। काशीदास बाबा कन्हैया के शिष्य थे। काशीदास बाबा की पूजा वृन्दावन में गोर्वधन पूजा के नाम से जाना जाता है। कन्हैया ने अपने शिष्य काशी से कहा कि तुम्हारे नाम की पूजा पूरे देश में होगी। इस बात पर काशीदास बाबा आश्चर्यचकित हो गये और कन्हैया से कहे कि पूजापाठ का सामान कहां से आयेगा तो इस बात पर कन्हैया ने कहा की पूजापाठ में कुछ खर्च नहीं आयेगा। बस 9 बांस की बल्ली, एक कम्बल तथा एक बांस की लाठी व तीन खप्पर की जरूरत पड़ेगी। यह चीज भक्त तुम्हें आसानी से उपलब्ध करा देंगे। उन्होंने कहा कि पूजा विश्वास का प्रतीक होता है। भगवान कृष्ण की 16 हजार पटरानी थीं। किसी देवीदेवता या राजा महाराजा के मुकूट पर मोर पंख नहीं देखे होंगे लेकिन भगवान कृष्ण के मुकूट पर हमेशा मोर पंख दिखायी देता होगा। भगवान कृष्ण प्रेम के प्रतीक हैं। पूजा के दौरान फलाहारी बाबा विजयशंकर चतुर्वेदी, ओमप्रकाश चौबे, ग्राम प्रधान मून्ना राजभर, काशीराजभर, रामनिवास यादव रमाशंकर यादव, राधेश्याम यादव, राजनारायण यादव, हरदेव यादव आदि लोग मौजूद रहे।


    Share on Google Plus

    About Rubaru News

    This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
      Blogger Comment
      Facebook Comment

    0 comments:

    Post a Comment