• --New-- Click here to Watch News channel online.
  • कन्या कुमारी से काशी तक फादर पी विक्टर का सफर | Rubaru news
    Powered by Blogger.

    कन्या कुमारी से काशी तक फादर पी विक्टर का सफर

    गाजीपुर 21/1/2018(विकास राय) @www.rubarunews.com>> जनपद के बाराचंवर ब्लाक के हार्टमन इण्टर कालेज हार्टमन पुर के लोकप्रिय प्रधानाचार्य फादर पी विक्टर का जन्म 24 जनवरी 1967 को तमिलनाडु राज्य के कन्याकुमारी में नायर कोयल स्थान पर हुवा था। आपके पिता स्व ए पीटर एवं माता श्रीमती विन्सेन्ट के संरक्षण में आपकी प्रारम्भिक शिक्षा तमिलनाडु में हुई। हाई स्कूल प्रथम श्रेणी से उत्तीर्ण करने के पश्चात आप पहली बार इण्टरमीडिएट की शिक्षा ग्रहण करने के लिए तमिलनाडु से उत्तर प्रदेश के धार्मिक शहर काशी आये। आपको उसी समय काशी नगरी से गहरा लगाव हो गया। इण्टर मिडिएट की शिक्षा सेन्ट जान्स स्कूल डी एल डब्ल्यू वाराणसी से प्रथम श्रेणी से उत्तीर्ण कर स्नातक की शिक्षा आपने इलाहाबाद बिश्व बिद्यालय से प्राप्त की।आपने प्रयाग संगीत समिति से संगीत प्रभाकर की उपाधि भी प्राप्त की। 25 अप्रैल 1995 को आपको कन्याकुमारी में आपके जन्म स्थान पर आयोजित पुराहिताभिषेक कार्यक्रम में आपको फादर (पुरोहित) बनाया गया।फादर बनने के बाद आपको बाराणसी धर्म प्रान्त के गाजीपुर  जनपद के ग्रामीण इलाके में स्थित मरियाबाद मिशन पर फादर के रूप में नियुक्त होने का सौभाग्य प्राप्त हुवा। यह गाजीपुर जनपद में आपका प्रथम आगमन था। मरीयाबाद में दो साल के सेवा के बाद आपको वाराणसी स्थित नवसाधना कालेज आफ भरतनाट्यम का प्रशासक बनाया गया।आपने इस पद को 1997 से 1998 तक सुशोभित किया। उसके बाद आपने जिस कालेज से शिक्षा ग्रहण की थी उसी सेन्ट जान्स स्कूल वाराणसी का उप प्रधानाचार्य बनने का सौभाग्य प्राप्त हुआ। तीन साल के बाद आपको उच्च शिक्षा ग्रहण करने के लिए सेन्ट जेबियर्स कालेज कलकत्ता भेजा गया।एक वर्ष के पश्चात आपको शाहगंज जौनपुर स्थित सेन्ट थामस इण्टर कालेज का उप प्रधानाचार्य बनाया गया। आपने पांच वर्ष तक शाहगंज  में ज्ञान का दीपक जलाने का कार्य किया। डयोसिस आफ वाराणसी के द्वारा आपके अन्दर की उर्जा एवम आपकी काबिलियत को देख कर 2005 में सेन्ट जान्स स्कूल लोहता का प्रथम फादर एवम प्रथम प्रधानाचार्य बनाया गया।वर्ष 2007 में काशी बिद्वत परिषद के द्वारा वाराणसी की सरजमीं पर आपको ॥काशी रत्न॥से नवाजा गया।वर्ष 2007-8 में आपको लहुरी काशी गाजीपुर जनपद के ग्रामीण इलाके में स्थित सबसे पुराने बिद्यालय हार्टमन इण्टर कालेज हार्टमन पुर का काया कल्प करने के लिए प्रधानाचार्य के पद पर भेजा गया।आपकी दृढ इच्छा शक्ति और मेहनत के कारण इस कालेज का जनपद में एक सम्मानजनक स्थान हो गया है। आपकी देख रेख में हार्टमन पुर मिशन में जनपद का सबसे खुबसूरत चर्च, बोडिंग एवम अनेक निर्माण कार्य कराये गये है। आपने गाजीपुर जनपद को हरा भरा करने के लिए एक संस्था बनाया है जिसे लोग मिशन ग्रीन गाजीपुर के नाम से जानते है। इस संस्था के माध्यम से आपने वर्ष 2014 से 2017 तक प्रत्येक वर्ष 25000 पौधारोपण करा कर गाजीपुर जनपद में एक इतिहास कायम किया है। आपने अब तक गाजीपुर बलिया मऊ एवम बाराणसी  में लाखो की संख्या में पौधे लगवाने का कार्य किया है।आप पर्यावरण प्रेमी के साथ साथ लेखक गीतकार गायक एवं कुशल वादक भी है। आपके द्वारा स्व रचित अनेक गीत एवं भजनों की रिकार्डिंग भी आपकी आवाज में की गयी है। आप निश्चित रूप से बहुमुखी प्रतिभा के धनी ब्यक्ति है। आपने हार्टमन पुर के उसर माटी को अपने प्रयास से हरा भरा कर दिया है। आपके द्वारा बिद्यालय परिसर में स्व कलाम साहब की याद में एक कलाम बाटिका की स्थापना की गयी है।आपके कार्यक्रम में जिलाधिकारी ,पुलिस अधीक्षक ,उपभोक्ता फोरम के चेयर मैन, ईसरो बैज्ञानिक, समेत अन्य लोग बिद्यालय में पधार चुके है। आपको गाजीपुर बलिया एवम बाराणसी जनपद में आयोजित कार्यक्रमों में अनेक बार सम्मानित किया जा चुका है।हर वर्ष 24 जनवरी को फादर पी विक्टर का जन्म दिन बहुत ही हर्षोल्लास के साथ हार्टमन पुर में मनाया जाता है।इस बार भी आपके 51वे जन्मदिन की तैयारी में विद्यालय के सभी छात्र छात्राओं के साथ सभी शिक्षक भी लगे है।



    Share on Google Plus

    About Rubaru News

    This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
      Blogger Comment
      Facebook Comment

    0 comments:

    Post a Comment