• --New-- Click here to Watch News channel online.
  • पुलिसकर्मियों पर हमले का सीसीटीव्ही फुटेज आया सामने, थाने की सुरक्षा व्यवस्था पर उठे सवाल | Rubaru news
    Powered by Blogger.

    पुलिसकर्मियों पर हमले का सीसीटीव्ही फुटेज आया सामने, थाने की सुरक्षा व्यवस्था पर उठे सवाल


    भिण्ड11/09/2018 (rubarudesk) @www.rubarunews.com>> ऊमरी थाना के भीतर दो पुलिसकर्मियों पर हमला होने के घटना का सीसीटीव्ही फुटेज सामने आ गया है। यह फुटेज थाने में लगे सीसीटीव्ही कैमरे का है और इसमें आरोपी दोनों पुलिसकर्मियों पर हमला करता नजर आ रहा है। तस्वीरें विचलित करने वाली हैं और इससे थाने की सुरक्षा पर भी सवालिया निशान लगा दिया है। इन तस्वीरों में साफ है की जिस वक्त यह घटना हुई तो थाने से न सिर्फ अन्य स्टाफ नदारत था, बल्कि टीआई सीपी सिंह चौहान भी थाने में मौजूद नहीं थे और आरोपी ने कुर्सी पर बैठे पुलिसकर्मियों पर पीछे की ओर से गैंती से हमला किया और आसानी से मौके से भाग भी गया। इस आरोपी को अगले दिन पुलिस ने गिरफ्तार कर मामला दर्ज किया है। अब सवाल इस बात का है कि जब थाने में बैठे पुलिसकर्मी ही सुरक्षित नहीं है तो यह आमजनता की सुरक्षा के दावे को यह पूरा कैसे कर सकते हैं। चर्चा यह भी है कि ऊमरी थाना रेत की अवैध वसूली के लिए जाना जाता है और रात होते ही जैसे ही रेत से भरे वाहन निकलना शुरू होते हैं वैसे ही पूरा का पूरा थाना इनसे वसूली करने रवाना हो जाता है, इसलिए जब यह घटना हुई तो उस वक्त यहांं का स्टाफ कहां था इसकी जांच होनी चाहिए।
    आरोपी ने पुलिस पर लगाए आरोप
           मीडिया के सामने उसने खुलासा किया कि घटना से पूर्व उसे जबरन पुलिस पकडक़र थाने लाई थी। उससे पूछा गया कि किस आरोप में उसे पकड़ा गया था तो उसने खुलासा किया कि बेवजह उसे गिरफ्तार किया गया था और उसे लॉकअप में बंद न कर थाना परिसर में ही बिठाकर रखा गया था और बार उसने छोडऩे की गुजारिश की लेकिन उसकी बात नहीं सुनी तो उसने यह हमला किया।
    थाने में खुला कैसे छोड़ सकते आरोपी को
             सवाल इस बात का भी है कि थाने में आरोपी को खुले में कैसे बिठाकर रखा जा सकता है जैसा कि इस मामले में देखने को मिला और सीसीटीव्ही फुटेज में भी साफ दिखाई दे रहा है कि आरोपी थाने में खुला घूम रहा है। इस पूरे प्रकरण में कुछ तो ऐसा है जिसे ऊमरी टीआई और अन्य स्टाफ छुपाने का प्रयास कर रहे हैं और जो कहानी सुनाई जा रही है वह बनाई हुई है।
    पुलिस ने बताई यह कहानी
            ऊमरी टीआई ने बताया कि रविवार को विष्णु सिंह राजावत निवासी मछंंड देर शाम कस्बे में उत्पात मचा रहा था। इस सूचना पर उसे पकडक़र थाने लाया गया और इस पर मामला दर्ज कर हवालात में बंद कर दिया गया। तभी रात करीब 8 बजे उसने टॉयलेट जाने के लिए बोला तो उसे लॉकअप से निकालकर टॉयलेट जाने की इजाजत दी गई। तभी उसने परिसर में रखे औजर पुलिसकर्मियों पर हमला कर फरार हो गया।
    एक पुलिसकर्मी को किया दिल्ली रैफर
            थाने में ड्यूटी पर तैनात दो पुलिसकर्मी एचसीएम उमेश बाबू और आरक्षक गजराज सिंह इस हमले का शिकार हुए और इनमें से एचसीएम उमेश बाबू को गंभीर हालत में ग्वालियर रैफर किया गया था, लेकिन हालत ज्यादा नाजुक देखते हुए उसे ग्वालियर से दिल्ली रैफर कर दिया गया है।

    Share on Google Plus

    About Rubaru News

    This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
      Blogger Comment
      Facebook Comment

    0 comments:

    Post a Comment