• --New-- Click here to Watch News channel online.
  • विघायक ने तलाई जीर्णोद्वार कार्य का शिलान्यास कर जल संरक्षण कार्य का किया आगाज | Rubaru news
    Powered by Blogger.

    विघायक ने तलाई जीर्णोद्वार कार्य का शिलान्यास कर जल संरक्षण कार्य का किया आगाज


    बून्दी,(KrishnaKantRathore) @www.rubarunews.com>>  प्रदेश  में जल संरक्षण की मुहिम को सार्थक बनाने वाला मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियानबुधवार को चतुर्थ चरण में प्रविश्ट हो गया। प्रदेश  स्तर के आगाज के तहत जिले में भी सभी पंचायत समितियों में एक साथ चतुर्थ चरण के कार्यों का शुभारम्भ हुआ। जिला स्तरीय समारोह आमली ग्राम पंचायत के प्रेमपुरा गांव में आयोजित हुआ जहां विधायक श्री अशोक डोगरा ने तलाई जीर्णोद्धार कार्य का शुभारम्भ किया। जिला प्रमुख श्रीमती सोनिया गुर्जर एवं प्रधान श्रीमती मधु वर्मा सहित क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि तथा अधिकारी मौजूद रहे।


             
    समारोह को सम्बोधित करते हुए विधायक श्री डोगरा ने कहा कि मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन अभियान ने प्रदेष में जल संरक्षण की नई कहानी लिखी है। सबकी सहभागिता वाले इस अभियान से राजस्थान की तस्वीर बदल रही है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री महोदया की दूरगामी सोच वाले इस अभियान से बूंदी जिले में भी सुखद ृृृपरिणाम सामने आए हैं। इस अभियान की बदौलत जल स्तर में वृद्वि हुयी है वहीं 6 हजार हैक्टेयर से अधिक अतिरिक्त क्षेत्र में सिंचाई की व्यवस्था हुई है जिससे पैदावार बढी है और किसान मजबूत हुआ है। लगभग 93 करोड की लागत से अभियान के चार चरण पूर्ण होंगे।
           कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रही जिला परिषद प्रमुख श्रीमती सोनिया गुर्जर नें कहा कि अभियान में व्यय की जानी वाली राशि का सद्दुपयोग किया जावे ताकि संबधित क्षैत्र के वासियों को सीधा लाभ मिले। उन्होंने कहा कि यह अभियान जन हितार्थ श्रेष्ठ कार्य है।
                 कार्यक्रम की विशिष्ट अतिथि पंचायत समिति बूंदी प्रधान मधु वर्मा नें प्रेमपुरा के  निवासियों को बधाई देते हुए कहा कि जल स्वावलम्बन अभियान से निश्चित रूप से भूमिगत जलस्तर में अभूतपूर्व सुधार हुआ है। इस अभियान से गांवों का ही भला हो रहा है अतः सभी को पूर्ण इमानदारी के साथ सहयोग करना चाहिए। साथ ही अभियान को सफल बनाने का आवाह्न भी किया।
               
    274 गांव होंगे जल स्वावलम्बी
            उपखण्ड अधिकारी बून्दी दिवांशु  शर्मा ने अतिथियों का स्वागत किया। जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मुरलीधर प्रतिहार ने कहा कि अभियान ने जिले में श्रेष्ठ परिणाम दिए हैं। उन्होंने बताया कि प्रथम चरण में 5 पंचायत समितियों की 15 ग्राम पंचायतों के 54 गांवो में कुल 2799 कार्यो पर 2628.86 लाख, द्वितीय चरण में 5 पंचायत समितियों की 27 ग्राम पंचायतों के 83 गांवो में 2952 कार्य पूर्ण कर 3604.50 लाख, तृतीय चरण में 21 ग्राम पंचायतों के 72 गांवो में 2871 कार्य पूर्ण कर राषि 3122.60 लाख राषि का व्यय किया गया है। चतुर्थ चरण में 21 ग्राम पंचायतों के कुल 65 गांवो का चयन किया गया है जिसमें पंचायत समिति बून्दी के 31 गांव, हिण्डोली के 5 गांव, के.पाटन के 8 गांव, नैनवां के 14 गांव, तालेड़ा के 7 गांव हैं।
     3 से 5 फीट बढा जलस्तर
                अधीक्षण अभियंता वाटरषेड सुखलाल मीणा ने बताया कि अभियान के अंर्तगत 8622 पुराने कार्यो को हाथ में लिया जाकर इनका जीर्णोद्वार करवाया गया तथा 2481 नये कार्य कराए गए जिनमें एनिकट, एमपीटी, चैकडेम इत्यादि कार्य कराऐ गए है इन कार्यो से अभियान के तीन चरणों में 150 लाख क्यूबिक मीटर जल का संरक्षण हुआ है। सर्वे में 3 से 5 फीट जलस्तर की वृद्वि भी हुई है। 
    विधायक एवं अन्य जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों ने किया श्रमदान
                  मुख्यमंत्री जल स्वावलम्बन के चतुर्थ चरण शुभारम्भ के अवसर पर प्रेमपुरा गांव की तलाई पर श्रमदान भी किया गया। आरम्भ में विधायक श्री डोगरा ने तलाई जीर्णोद्वार की पट्टिका का अनावरण किया तथा भूमि पूजन करने के बाद श्रमदान किया। उन्होने मौजूद जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों के साथ फावडे से तगारियों को भरते हुए तलाई, खुदाई के कार्य की शुरूआत की।
    इस अवसर पर मण्डल वन अधिकारी प्रहलाद राय बडगूजर, विकास अधिकारी बूंदी रमेश चंद मीणा, अधिषाशी अभियन्ता वाटर शेड शिव कुमार खण्डेलवाल, जिला आयुर्वेद अधिकारी कृष्ण मुरारी रेवाल, जिला स्वच्छता समन्वयक निजामुद्दीन एवं जिला स्तरीय अधिकारी तथा आमजन मौजूद रहे।


    Share on Google Plus

    About Rubaru News

    This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
      Blogger Comment
      Facebook Comment

    0 comments:

    Post a Comment