• --New-- Click here to Watch News channel online.
  • ऐसे मनाएं बूंदी उत्सव कि पर्यटक खिंचे चले आएं- जिला कलेक्टर | Rubaru news
    Powered by Blogger.

    ऐसे मनाएं बूंदी उत्सव कि पर्यटक खिंचे चले आएं- जिला कलेक्टर

    बून्दी 22/नवम्बर/2018 (krishnaKantRathore) @www.rubarunews.com~ जिला कलेक्टर महेशचन्द्र शर्मा ने कहा कि सभी की भागीदारी से सांस्कृतिक आयोजन बून्दी उत्सव को ऐसा स्वरूप दिया जाए कि इसमें सम्मिलित हुए पर्यटक इसकी सुखद अनुभूतियां साथ लेकर जाए और माउथ पब्लिसिटी के जरिये अन्य पर्यटको तक भी इस उत्सव की जानकारी पहुंचे।
    जिला कलेक्टर ने आव्हान किया हैं कि बून्दी उत्सव में सभी गतिविधियों में बून्दी वासियों की पूरी भागीदारी रहे ताकि इसकी शोभा बढ़े साथ ही पर्यटकों की भी बढ़-चढ़ कर हिस्सेदारी हो। पर्यटक इस उत्सव की सुखद स्मृतियो को लेकर जाए और खुद ही इसके ब्रांड एम्बेसेडर बन कर अन्य पर्यटको को यहां आने के लिए प्रेरित करे। उन्होने बताया कि विविध कार्यक्रमों के जरिये सभी वर्गो के जुडाव का प्रयास रहेगा। 
    मतदाता जागरूकता का संदेश देगे विभिन्न कार्यक्रम 
    जिला कलेक्टर ने बताया कि विधानसभा आम चुनाव के दृष्टिगत इस बार बून्दी उत्सव में होने वाली गतिविधियों को इस तरह डिजाइन किया गया है कि मतदाता जागरूकता का संदेश भी व्यापक रूप से फैले। शोभयात्रा में कलशों पर इस आशय के स्टिकर लगाए जाएंगे। चित्रकला प्रतियोगिता तथा वर्कशॉप भी मतदाता जागरूकता विषय पर रहेगी। आंगनबाडी कार्यकर्ताओं, साथिन भी पीले चावल बांटकर बून्दी उत्सव में शामिल होने के साथ-साथ 7 दिसम्बर को मतदान करने का निमंत्रण्ण भी देगीं।
    यह रहेंगे खास आकर्षण 
    उत्सव के कार्यक्रमों की श्रृखंला में पहले दिन बूंदी में 26 नवंबर को सुबह 9 बजे गढ़ पैलेस से भव्य शोभायात्रा निकाली जाएगी। यह शोभायात्रा पुलिस परेड ग्राउण्ड पर जाकर सम्पन्न होगी। यहां पर सुबह 11 बजे से विविध प्रतियोगिताएं होंगी। इसके तहत रस्सा कसी, मूंछ, साफा बांधना, ऊंट दौड़, घुड दौड़, पणिहारी दौड़ आदि प्रतियोगिताओं का आयोजन किया जाएगा।
    कला से होगा साक्षात  
    कार्यक्रमों की श्रृखंला में शाम 3.30 बजे आर्ट गैलेरी में आयोजित चित्रकला प्रदर्शनी का शुभारंभ होगा। इसके बाद शाम 5.30 बजे बाणगंगा में झिलमिल (दीपदान) तथा 7.30 बजे 84 खंभों की छतरी पर बेस्ट फॉक ऑफ इण्डिया सांस्कृतिक संध्या  आयोजित की जाएगी। इसके बाद आकाश गंगा (आतिशबाजी) होगी। 
    मान मनुहार और दीपदान 
    बूंदी उत्सव के दूसरे दिन 27 नवंबर को भी विविध मनोहारी कार्यक्रमों का सिलसिला जारी रहेगा।  इसके तहत दोपहर 12 बजे सुखमहल में मान मनुहार कार्यक्रम होगा। इसमें देशी विदेशी पावणों की देसी पकवानों से मान मनुहार की जाएगी। शाम 5.30 बजे जैतसागर झील में दीपदान  तथा शाम 7.30 बजे 84 खंभों की छतरी पर सांस्कृति कार्यक्रम की प्रस्तुति होगी। इसके बाद भव्य आतिशबाजी होगी। उत्सव के तीसरे दिन 28 नवंबर को सुबह 10.30 बजे सर्किट हाऊस से ठीकरदा गांव तक विलेज सफारी का आयोजन किया जाएगा। दोपहर 12.30 बजे विदेशी पर्यटकों का स्वागत एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित होगा। 
    उपखण्ड स्तर पर भी  होंगे आयोजन
    बूंदी उत्सव के तहत जिले के उपखण्ड मुख्यालयों सहित अन्य स्थानों पर उत्सवी रंग देखने को मिलेंगे। कार्यक्रम के तहत इन्द्रगढ़ में 26 नवंबर को दोपहर 12 बजे खेल मैदान पर ग्रामीण खेल का शुभारंभ होगा। दोपहर 2 बजे नगरपालिका परिसर में राजस्थानी वेशभूषा प्रतियोगिता, शाम 5.30 बजे इन्द्राणी तालाब में दीपदान तथा शाम 7.30 बजे से नगर पालिका परिसर में रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित होगा। लाखेरी में 27 नवंबर को उत्सव का शुभारंभ सुबह 10 बजे रघुनाथ मंदिर से भव्य शोभायात्रा के साथ होगा। इसके बाद  सुबह 11 से 2 बजे तक हायर सैकेण्डरी प्रांगण में मूंछ, साफा बांधना, मेंहदी, माण्डना, रंगोली, पणिहारी दौड़, राजस्थान वेषभूषा आदि  प्रतियोगिताएं होंगी। शाम 4 बजे शिव मंदिर से जिग जेग डेम तक कलश यात्रा निकाली जाएगी। शाम 5.30 बजे जिग जेग डेम में दीपदान व व आतिशबाजी तथा शाम साढ़े सात बजे माध्यमिक विद्यालय में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। 
    इसी तरह नैनवां में उत्सव का आगाज 27 नवंबर को सुबह 9.30 बजे गढ़ पैलेस में गणेश पूजा के साथ होगा। इसके बाद सुबह 10 बजे से गढ़ पैलेस से नर्सरी तक कलश यात्रा निकाली जाएगी। तत्पश्चात दोपहर 12 बजे सैकेण्डरी स्कूल परिसर में मेंहदी मांडना, चित्रकला, पाक कला प्रतियोगित व बांसुरी वादन होगा। शाम साढ़े सात बजे सैकेण्डरी स्कूल परिसर में सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। कार्यक्रमों की श्रृखंला में 28 नवंबर को हिण्डोली उपखण्ड मुख्यालय पर उत्सव का शुभारंभ सुबह सैकेण्डरी स्कूल में  गणेश पूजा से होगा। इसके बाद साढ़े आठ बजे गढ़ पैलेस में ध्वज स्थापना होगी। सुबह 9 बजे सन का देवरा में ठा.प्रताप सिंह जी की पूजा अर्चना होगी। सुबह 9.30  रघुनाथ घाट से कलश यात्रा एवं शोभायात्रा निकाली जाएगी। इसके बाद दोपहर 12 बजे वीर तेजाजी परिसर में पारंपरिक खेल प्रतियोगिता होगी। शाम साढ़े पांच बजे वीर तेजाजी घाट पर दीपदान तथा शाम साढ़े सात बजे वीर तेजाजी मंच पर सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किया जाएगा। इसके बाद भव्य आतिशबाजी होगी। 
    जिले की तीर्थनगरी केशवरायपाटन में 28 नवंबर को उत्सव का शुभारंभ चंबल घाट पर सुबह 9 बजे गणेश पूजन से होगा। सुबह 10 बजे केशव घाट पर श्री केशव परिक्रमा होगी। शाम चार बजे चंबल कॉलोनी से शोभायात्रा, शाम 5.30 बजे केशव घाट पर महाआरती व दीपदान होगा। इसके बाद शाम साढ़े सात बजे केशव रंगमंच पर भजन संध्या आयोजित होगी। इसके बाद आतिशबाजी भी होगी। 
    कार्यक्रमों की श्रृखंला में 26 नवंबर को शाम साढ़े पांच बजे तलवास के रतन सागर तथा 28 नवंबर को साढ़े पांच बजे दुगारी में दीपदान कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।
    Share on Google Plus

    About Rubaru News

    This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
      Blogger Comment
      Facebook Comment

    0 comments:

    Post a Comment