• --New-- Click here to Watch News channel online.
  • कलेक्टर ने मैदानी स्तर पर दी जा रही सुविधाओं का लिया जायजा | Rubaru news
    Powered by Blogger.

    कलेक्टर ने मैदानी स्तर पर दी जा रही सुविधाओं का लिया जायजा


    श्योपुर, 02/जनवरी/2019 (rubarudesk) @www.rubarunews.com>> कलेक्टर श्री बसंत कुर्रे ने आज जिले की तहसील श्योपुर के ग्रामीण क्षेत्रों में शासन की मूलभूत सुविधाओं की मैदानी हकीकत जानी। साथ ही शिक्षा, स्वास्थ्य की दिशा में व्यवस्थाओं का अवलोकन कर आंगनबाड़ी केंद्रों में मध्यान्ह भोजन प्रदान करने का अवलोकन किया। इसी प्रकार अनियमिततता बरतने वाले अधिकारी, कर्मचारियों को कार्यवाईयां प्रस्तावित की। इस दौरान एसडीएम श्योपुर श्री पीएस चैहान, सीईओ जनपद श्री पुरूषोत्तम शर्मा एवं अन्य विभागीय अधिकारी/कर्मचारी उनके साथ थे। 
                         कलेक्टर श्री बसंत कुर्रे ने ग्राम रायपुरा स्थित मीडिल एवं हाईस्कूल विद्यालय का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया। साथ ही शिक्षकों की उपस्थित और छात्रों की संख्या देखी। उन्होंने कक्षा 7वीं में 39 छात्रों की दर्ज संख्या में से 23 छात्र उपस्थित पाए गए। इसी प्रकार कक्षा 8वीं में दर्ज 23 छात्रों में से 14 छात्र विद्या अध्ययन करते हुए मिले। साथ ही कक्षा 6वीं में दर्ज 39 छात्रों में से 24 छात्र पाए गए। इस दौरान तीनों कक्षाओं में क्रमशः विज्ञान, अंग्रेजी एवं संस्कृत की शिक्षा शिक्षकों द्वारा प्रदान की जा रही थी। कलेक्टर ने शिक्षकों को दर्ज संख्या के मान से उपस्थित सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने मध्यान्ह भोजन की जानकारी प्राप्त की। इस दौरान मध्यान्ह भोजन विद्यालय में बनता हुआ नहीं मिला। जिसपर से समूह के विरूद्ध कार्यवाही करने के निर्देश सीईओ जनपद को दिए।  
                     कलेक्टर ने हाईस्कूल रायपुरा की व्यवस्थाओं का अवलोकन किया। इस दौरान सहायक शिक्षक श्री रोशन गर्ग ने जानकारी दी। उन्होंने बताया कि  विद्यालय में 10 शिक्षक एवं एक भृत्य पदस्थ है। विद्यालय के प्रधानाध्यापक श्री ओपी भाटिया ड्रेस लेने के लिए एनआरएलएम कार्यालय श्योपुर गए हुए हैं। इसी प्रकार अध्यापक श्री सेलेन्द्र शर्मा ओएल पर गए थे। भृत्य दुर्गाप्रसाद माहौर अपर कार्यालय में अटैच है। प्राचार्य श्री आरडी किरार जिला शिक्षा अधिकारी के निर्देश पर जांच कार्य के लिए चले गए हैं। कलेक्टर ने विद्यालय के विगत वर्ष के रिजल्ट की स्थिति जानी। साथ ही हाफ ईयर के रिजल्ट की सीट का अवलोकन किया। उन्होंने इस वर्ष भी अच्छा रिजल्ट लाने के निर्देश उपस्थित शिक्षकों को दिए। 
                     कलेक्टर श्री कुर्रे ने ग्राम जावदेश्वर स्थित शा. प्राथमिक विद्यालय की व्यवस्थाओं का अवलोकन किया। इस विद्यालय की बाउंड्रीवाल की नीव खुदवाई जा रही थी। ग्रामीणों ने अवगत कराया कि स्कूल रोज लगता है। मध्यान्ह भोजन भी बन रहा है। छात्रों ने बताया कि विद्यालय में तीन शिक्षक पदस्थत है। जिनमें से एचएम बनवारी लाल राठौर उपस्थित है। साथ ही एक शिक्षक बनवारी लाल गुर्जर अनुपस्थित है। कलेक्टर ने अनुपस्थित शिक्षक के विरूद्ध कार्यवाही करने के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिए। 
                     इसी प्रकार ग्रामीणों से चर्चा करते हुए कहा कि गावं की साफ-सफाई व्यवस्था को कायम रखा जावे। इस दौरान उपस्थित सरपंच श्री रामजीलाल मीणा ने बताया कि 4 लाख रूपए की बाउंड्रीवाल प्राथमिक विद्यालय की बनवाई जा रही है। उन्होंने कहा कि पंचायत भवन के लिए जगह नहीं है। तब कलेक्टर ने एसडीएम, आरआई पटवारियों को निर्देश दिए कि गांव के पास ही पंचायत भवन के लिए जगह चिन्हांकित कर प्रदान की जावे। 
                         कलेक्टर ने जावदेश्वर स्थित आंगनबाड़ी भवन की व्यवस्थाएं देखी। इस दौरान कार्यकर्ता चंद्रकला, सहायिका मौसमी योगी 55 बच्चों की संख्या में से मात्र 15 बच्चों को प्रारंभिक शिक्षा दे रही थी। कलेक्टर ने आंगनबाड़ी केंद्र का स्टोर देखा। साथ ही बच्चों को समय पर पोषण आहार प्रदान करने के निर्देश दिए। इसी प्रकार कार्यकर्ता एवं सहायिका को उपस्थित के अनुसार दर्ज 55 बच्चों को सुविधाएं प्रदान की जावे। 
                        शा. हाईस्कूल भवन जैनी के निरीक्षण के दौरान विद्यालय में प्राचार्य, शिक्षक उपस्थित पाए गए। प्राथमिक एवं माध्यमिक विद्यालय के छात्रों को मध्यान्ह भोजन प्रदान करने की व्यवस्था का अवलोकन किया। इस दौरान गांव के सरपंच श्री हेमचंद मीणा भी मौजूद थे। कलेक्टर ने उनकों विद्यालय परिसर में बनवाए गए पंचायत भवन का रास्ता गांव की ओर करने की समझाइश दी। साथ ही पंचायत भवन की बाउंड्री एवं मैन सडक तक सीसी सडक बनाने के दिशा- निर्देश दिए। इसी प्रकार गांव की साफ-सफाई व्यवस्था को निरंतर जारी रखने की समझाइश दी। कलेक्टर ने सहायक अध्यापक प्रा. विद्यालय श्री बूंदीलाल को मध्यान्ह भोजन के अंतर्गत मीनू के अनुसार बच्चों को खाना समूह से बनवाने के निर्देश दिए। 
                     कलेक्टर ने शासकीय पशु औषधालय एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मानपुर की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस दौरान शासकीय पशु औषधालय में पशुओं को दी जाने वाली दवाईयों का इंद्राज एबीएफओ द्वारा 15 दिसंबर 2018 से 02 जनवरी 2019 तक नहीं करना पाया गया। उन्होंने विभागीय अधिकारियों को एबीएफओ के विरूद्ध कार्यवाही करने के निर्देश दिए। शासकीय पशु औषधालय में भृत्य श्री कमल आर्य उपस्थित मिले। पीटीएफ उंगती बाई अनुपस्थित मिली। इनके विरूद्ध कार्यवाही करने के निर्देश अधिकारियों को दिए। इसी प्रकार पशुओं को दी जाने वाली दवाईयों का अवलोकन किया। 
                  बीआरजीएफ की राशि से निर्मित भवन में पशु औषधालय के अलावा पीएससी भी लगता पाया गया। जिसकी व्यवस्थाओं का अवलोकन किया। साथ ही मरीजो को दिए जा रहे उपचार की पंजी देखी एवं दवाईयों के स्टाॅक का निरीक्षण किया। लेब टेक्निशियन श्री शेलेन्द्र धाकड़ ने बताया कि पीएससी पर 10 से लेकर 20 मरीज प्रतिदिन आते हैं। उनके उपचार की दिशा में दवाईयां प्रदान की जाती है। चिकित्सक कभी-कभी पीएससी पर आते हैं। कलेक्टर ने सीएमएचओ डाॅ. एनसी गुप्ता को निर्देश दिए हैं कि वे चिकित्सों की उपस्थित नियमित सुनिश्चित करें। 
                   कलेक्टर श्री कुर्रे ने शा. आदिवासी कन्या आश्रम धिरोली का निरीक्षण किया।  निरीक्षण के दौरान 50 सीटर छात्राओं की उपस्थित में से 7 छात्राएं मात्र मौके पर मिली। पलंग गद्दों की व्यवस्था व्यवस्थित तरीके से नहीं पाई गई। छात्रावास में अधीक्षक सीतल सोलंकी, सहायक शिक्षक श्री रामअवतार सेमिल उपस्थित मिले। इसी प्रकार रसौईयां कुंती बाई भी छात्रावास में ही मिली। कलेक्टर ने छात्रावास में छात्राओं से नास्ता, भोजन की जानकारी प्राप्त की। साथ ही रसौईया से भोजन पकाने की जानकारी ली। इस दौरान कलेक्टर ने रसौईया से गैस चालू करवाकर देखी। साथ ही बर्तनों का अवलोकन किया। 
    इसी प्रकार 50 सीटर कन्या आश्रम में शा. प्राथमिक विद्यालय हनुमान खेड़ा की सहायक अध्यापक को अधीक्षक के रूप में तैनात किया गया है। सहायक शिक्षक श्री रामअवतार सेमिल से छात्राओं की किताबें पढ़वाई। तब कक्षा 5वीं की छात्र राजकुमारी ने हिन्दी की किताब पढ़ी। जिसमें ‘‘आलमपनाह आपके दरबार में एक बुद्धिमान, हौसियार तथा बहादुर दरबारी मौजूद है‘‘। शेष छात्राओं की स्थिति ठीक नहीं मिली। कलेक्टर ने सहरिया समुदाय के व्यक्तियों से चर्चा की। तब उन्होंने बताया कि अधीक्षक श्योपुर में रहती है तथा शिक्षक अन्यत्र स्थान से आते हैं। जिसपर से छात्रावास अधीक्षक एवं सहायक शिक्षक का स्थानांतरण अन्यत्र करने के निर्देश विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिए। 
                       शा. प्राथमिक विद्यालय माकड़ोद के निरीक्षण के दौरान विद्यालय में सहा. अध्यापक श्री घनश्याम जाटव विद्यालय में ही मिले। इस विद्यालय में कक्षा 1 से 5वीं तक दर्ज 91 छात्रों में से 38 छात्र विद्या अध्ययन के लिए पाए गए। विद्यालय में छात्रों को मीनू के अनुसार चने की दाल, मिक्स सब्जी एवं रोटी की व्यवस्था बुधवार के दिन नहीं की गई। जबकि मसूर, मूंग की एक ही दाल मिलाकर बनाई गई। कलेक्टर ने चैथमल स्वसहायता समूह माकड़ोद को हटाने के निर्देश सीईओ जनपद श्योपुर को दिए। इसी प्रकार सहायक अध्यापक श्री घनश्याम जाटव को हटाने तथा अनुपस्थित सहा. अध्यापक श्री नेम सिंह मीणा को निलंबित करने के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिए। 
                           कलेक्टर श्री बसंत कुर्रे ने ढोढर स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। इस स्वास्थ्य केंद्र के निरीक्षण में आयुर्वेद हाॅस्पिटल एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र एक ही भवन में संचालित मिला। निरीक्षण के दौरान मरीजों को देखने की व्यवस्था का अवलोकन किया। साथ ही ओपीडी रजिस्टर में  मरीजों की पंजी देखी। इस पंजी में 15 मरीज मात्र आज देखे। साथ ही माया पत्नी कमल रावत की डिलेवरी की जानकारी कम्प्यूटर आॅपरेटर हेम मईडा एवं दवासाज श्रीमती अर्चना बामटे तथा नर्स ममता से प्राप्त की। कलेक्टर ने सीएमएचओ को निर्देश दिए हैं कि प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में चिकित्सकों एवं अमले की उपस्थिति नियमित रूप से सुनिश्चित की जावे। साथ ही आयुर्वेद चिकित्सा एवं कर्मचारी निरंतर  मरीजों को सुविधा प्रदान करें। 






    Share on Google Plus

    About Rubaru News

    This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
      Blogger Comment
      Facebook Comment

    0 comments:

    Post a Comment