• --New-- Click here to Watch News channel online.
  • दतिया के लिए प्राणवायु बन कर आये है मेडिकल कॉलेज के युवा चिकित्सक डॉ हेमंत कुमार जैन | Rubaru news
    Powered by Blogger.

    दतिया के लिए प्राणवायु बन कर आये है मेडिकल कॉलेज के युवा चिकित्सक डॉ हेमंत कुमार जैन

    दतिया (RamjisharanRai) @www.rubarunews.com>>आजादी के 70 बर्षो तक जिला दतिया अपने स्वास्थ्य के लिए ग्वालियर और उत्तरप्रदेश के झांसी के चिकित्सकों पर निर्भर रहा , परंतु 2018 में मेडिकल कॉलेज खुलने से जो परिवर्तन आये हैं वह जिला दतिया के पूर्व चिकित्सकों को पसंद नही आ रहे इसका मुख्य कारण फर्जी यानी झोला छाप चिकित्सको की रोजी रोटी , दतिया मेडिकल कॉलेज की नई ओपीडी ने छीन ली है और प्राइवेट प्रैक्टिस करने वाले चिकित्सको को कड़ी से कड़ी टक्कर , मेडिकल कॉलज के चिकित्सक दे रहे हैं और काफी हद तक पीड़ित जनता को राहत पहुंचा रहे हैं । सर्वप्रथम जिस दतिया जिले में पहले ओपीडी 300 से 400 तक रहती थी वही आजकल 1400 से 1600 मरीज प्रतिदिन अपना इलाज करवाने आ रहै हैं।। दतिया जिले में नए चिकित्सको के आगमन से चुकी पहले से अपने पैर जमा चुके चिकित्सको की जड़े हिल चुकी है बल्कि उनके द्वारा रेफरल का खेल भी लगभग खत्म होने की कगार पर है इसका अंदाजा इमरजेंसी बिभाग के आंकड़े अपने आप दे रहे है जो कि लगभग 70 प्रतिशत की गिरावट दर्शाते हैं।। पहले मरीजों के ऑपरेशन्स , बड़ी मुश्किल से हो पाते थे , अब यह रोज का काम है कि 10 से 15 ओपरेशन सामान्यतः यहां हो जाते हैं।। नए चिकित्सक चुकी बड़े बड़े शहरों से दतिया जिले में आये हैं उन्हें चिकित्सा विज्ञान की अच्छी जानकारी है और वो इस ज्ञान का उपयोग मरीजों के हित में लगातार कर रहे हैं। चूंकि मेडिकल कॉलज के जो चिकित्सक नॉन प्रैक्टिस अलाउंस नही लेते वो अपनी खुद की प्राइवेट प्रैक्टिस अपने निजी निवास पर कर सकते हैं ।
                डॉ केदार नाथ आर्य के द्वारा केंसर के मरीज का आपरेशन, डॉ प्रशांत हरित के द्वारा असहाय चर्मरोगी की मदद, ऐसे चिकित्सको में डॉ अमिता शर्मा ने स्त्री रोगों के लिए नियमित रूप से ओपीडी चलाना, नार्मल एवं आपरेशन से प्रसव , बच्चेदानी के आपरेशन आदि, , डॉ आशीष मौर्य ने नाक कान गला रोगों के  विशेष कार्य जैसे दोनों कानो का एक साथ आपरेशन  , डॉ मुकेश सिंह राजपूत के द्वारा आधुनिक फेको तकनीक से आपरेशन , नेत्र रोगों के लिए , डॉ मुकेश कुमार शर्मा ने हड्डी संबंधित रागों के लिए नाम कमाया है ,जिसमें रोगियों के घुटनो के दर्द से राहत के लिए खास कार्य शामिल हैं। खासकर  डॉ हेमंत कुमार जैन ने दतिया जिले में सामान्य चिकित्सा के क्षेत्र में खास नाम कमाया है और मरीज इनके इलाज से ज्यादा , इनके व्यवहार और किये जा रहे सामाजिक कार्यों के मुरीद हैं। बर्तमान में डॉ हेमंत जैन , रोटरी क्लब के माध्यम से 2 स्वास्थ्य शिविर लगा चुके हैं जिसमें परामर्श , जांचे एवं दवा पूर्ण रूप से मुफ्त था , हालांकि इनके द्वारा साल भर में लगाये गए शिविरों को गिना जाए तो ये करीब 1 दर्जन होते हैं।। इसके अलावा इनके यहां जीवन पर्यंत सैनिक और उनके परिवार जनों को इलाज संबंधित परामर्श शुल्क शून्य है।। कुछ माह पहले इन्होंने मूक बधिर विद्यालय के बच्चों के लिए 2 कूलर और एक वाटर डिस्पेंसर (ठंडे एवं गरम पानी के लिए ) दान दिए ।। रोटरी क्लब के माध्यम से पल्स पोलियो कार्यक्रम हो या फिर मतदाता जागरूकता का उद्देश्य , कदम से कदम मिला कर किया जा रहा है। 
                 मजदूर दिवस के दिन मजदूरों का सम्मान भी इनके द्वारा सुझाया गया जिसे सम्पूर्ण दतिया में सराहा गया ।बर्तमान में डॉ हेमंत कुमार जैन संस्कृत भारती दतिया जिले के कोषाध्यक्ष है , और संस्था के लिए दी गाएबजिम्मेदारी समय  पूर्व  कर उन्होंने तय समय से पहले कर के सम्पूर्ण प्रान्त में वाह वाही बटोरी। डॉ हेमंत जैन दतिया मेडिकल टीचर एसोसिएशन के मीडिया स्पोक्सपर्सन भी है। इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के मेंबर होने के नाते इस संस्था के लिए भी 2 हृदय रोग विशेषज्ञों के व्याख्यान भी इन्होंने आयोजित करवाये, तथा इन्ही दोनों चिकित्सकों के माध्यम से 2 हृदय रोग शिविर भी लगवाए । डॉ हेमंत जैन ने अभी 2 ग्राम प्यावल के समीप एक मंदिर के जीर्णोद्धार के लिए भी  दान राशि दी है। इस तरह से डॉ हेमंत जैन के कार्यों की भूरी भूरी प्रसंशा सभी लोग करते हैं।
    Share on Google Plus

    About www.rubarunews.com

    This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
      Blogger Comment
      Facebook Comment

    0 comments:

    Post a Comment