• --New-- Click here to Watch News channel online.
  • दशहत से नहीं उभरा परिवार- आरोपियों का चार दिन बाद भी नहीं लगा सुराग | Rubaru news
    Powered by Blogger.

    दशहत से नहीं उभरा परिवार- आरोपियों का चार दिन बाद भी नहीं लगा सुराग


    भिण्ड12/अक्टूबर/2019 (rubarudesk) @www.rubarunews.com>> शहर के जामना रोड इलाके में एक मकान को 8-9 अक्टूबर रात्रि 1.30 बजे अज्ञात 5 बदमाशों ने रैकी कर कट्टे की नोक पर 6 वर्षीय बालक को रखा और जान से मारने की धमकी देते रहे। जिसके बाद पति-पत्नी डर गये और घर में आधे घंटे तक लूटपाट मचाकर हथियारों के दम पर दहशत फैलाई और लाखों रुपये के गहने व नगदी समेटकर ले गये। इस घटना से परिवार को गहरा सदमा लगा है। वारदात के बाद से अब तक पीडि़त परिवार रात होती है दहशत से घिर जाता है और आंखों में आज भी वहीं घटना क्रम मडऱता है यह बात जामना रोड निवासी मेहम्बर व उनकी पत्नी नीरज ने कही। उनका आरोप है कि पुलिस ने मेरे द्वारा बताये अनुसार मामला दर्ज नहीं किया और डकैती जैसा बड़ा अपराध घटित होने के बाद मामूली धाराओं में दर्ज कर पूरी घटना को दूसरी दिशा में मोड दिया है। इसकी शिकायत लेकर परिवार न सिर्फ थाने के चक्कर लगा रहा है बल्कि एसपी से मुलाकात के लिए भी शनिवार दोपहर उनके दफ्तर पहुंचा था पर मुलाकात नहीं हो सकी। इस मामले में पीडि़त परिवार ने मुख्यमंत्री, गृहमंत्री, डीजीपी, आईजी अधिकारियों के लिए पत्र लिखा है और इसमें डकैती का मामला दर्ज करने की गुहार लगाई है।
    घटना से एक दिन पूर्व ग्वालियर से आया इसी तरह का मामला
                  इसी तरह का एक मामला ग्वालियर के पॉश कॉलोनी हरिशंकर पुरम के मकान नं.217 में घटित हुआ जिसके अगले ही दिन भिण्ड के जामना निवासी परिवार के साथ घटित हुआ। ग्वालियर में हुई वारदात में आधी रात को 5 से 7 आरोपी एक घर में घुसे और डकैती की वारदात को अंजाम दिया। यहां पर आरोपियों ने घर में मौजूद एक अकेली महिला को गन पॉइंट पर लेकर लूटपाट की और उसक ेसाथ मारपीट की घटना भी घटित की गई।
    घटना के बाद दहशत में परिवार
                 ज्ञात हो कि जामना रोड पर एक मकान को 8-9 अक्टूबर की रात मेहम्बर पुत्र छोटेलाल जाटव व उनकी पत्नी नीरज जाटव सहित एक बच्चा जो रात के समय सो रहे थे तभी अज्ञात 5 लुटेरे बगल में निर्माण हो रहे मकान के रास्ते उनके घर में दाखिल हुए और हथियारों की दम पर घर में दहशत फैलाते हुए बच्चे को जान से मारने की धमकी देते रहे जिसके बाद दंपति ने उनके हाथों में चाबियां थमा दी और बदमाश डकैती डारकर चले गये।
    पुलिस गश्त की खुली पोल
                 शहर में आये दिन चोरी, लूट की वारदात घटित हो रही है जिसके बाद भी पुलिस गश्त पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है जिससे बदमाशों के हौंसले बुलंद हैं और रात के वक्त जिलेभरमें चोरी, लूट, डकैती की वारदात को अंजाम देकर पुलिस को खुली चुनौती देने में लगे हुए हैं फिर गश्त क्यों नहीं बढ़ाया जाता है या फिर यह समझे पुलिस इन बदमाशों से कहीं मिली तो नहीं है। शहर में पुलिस गश्त को लेकर चर्चाएं हो रही है और कहीं भी पुलिस जवान दिखाई नहीं देते जिसके चलते वारदात घटित हो रही हैं।
    इनका कहना है:
                 जब पुलिस ने माना है कि पांच बदमाश मकान के अन्दर लूटपाट की तो डकैती की धाराओं में केस दर्ज करना था। पुलिस ने गंभीर अपराधों का ग्राफ कम करने के लिए एफआईआर में कमजोर धाराओं का इस्तेमाल किया है। इस केस में 392, 394 भादसं 11/13 एमपीडीपीके एक्ट, 147,148,149 धाराएं लगाई जाना चाहिए।
    -हिमांशु मिश्रा एडवाकेट भिण्ड

                पुलिस प्रयास में जुटी हुई है जल्द ही आरोपियों को नामजद कर मामले का खुलासा किया जायेगा।
    -रूडोल्फ अल्बारेस, एसपी भिण्ड

    Share on Google Plus

    About www.rubarunews.com

    This is a short description in the author block about the author. You edit it by entering text in the "Biographical Info" field in the user admin panel.
      Blogger Comment
      Facebook Comment

    0 comments:

    Post a Comment